इनकम टैक्स पर पाना चाहते हैं बेहतर रिटर्न तो अप्रैल 2024 से ही शुरू कर दे निवेश!

वित्त-वर्ष 2024-25 शुरू हो चुका है जिसके साथ ही कई लोगों ने अपना टैक्स बचाने के लिए 31 मार्च से पहले ही निवेश करना शुरू कर दिया था लेकिन इस तरह उन्हें कोई ज्यादा रिटर्न हासिल नहीं होता है।

अगर आप Income Tax Saving Formula को समझेंगे तो आप जानेंगे कि वित्त-वर्ष की शुरुआत यानी अप्रैल से ही टैक्स सेविंग करके निवेश करना चाहिए इसके कई तरह के फायदे हैं।

Income Tax Saving Formula से आपको हर महीने अच्छा रिटर्न प्राप्त हो सकता है लेकिन उसके लिए आपको अपने निवेश करने के तरीके में बदलाव करना होगा और हमारे द्वारा बताए गए इनकम टैक्स फार्मूले को अपनाना होगा जिससे आपको ही हर महीने बेहतर रिटर्न मिल सकेगा। 

हर महीने बेहतर रिटर्न पाने के लिए अपनाए Income Tax Saving Formula!

भारत में इनकम टैक्स का भुगतान करना एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी मानी जाती है। कई लोग हर साल 31 मार्च तक यानी फाइनेंशियल ईयर खत्म होने से पहले निवेश करना शुरू कर देते हैं जिससे उन्हें टैक्स को डिडक्शन मिलती है लेकिन इस तरह उन्हें कोई भी अच्छा रिटर्न हासिल नहीं होता है जिससे वह टैक्स से बच जाते हैं लेकिन रिटर्न प्राप्त नहीं कर पाते। 

income-tax-saving

ऐसे में फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स बताते हैं कि Income Tax Saving Formula निवेशकों के लिए एक बहुत अच्छा साधन हो सकता है जिसे ध्यान में रखते हुए वह हर महीने निवेश पर बेहतर रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।‌ फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स के मुताबिक की वित्त वर्ष की शुरुआत यानी अप्रैल 2024 से ही निवेश करना बेहतर रिटर्न के चांसेस बढ़ा देता है। 

Income Tax Saving Formula कुछ इस तरह से काम करता है-: 

Employee Provident Fund में निवेश

अगर आप एम्पलाई प्रोविडेंट फंड ( EPF) में निवेश करते हैं या करना चाहते हैं तो अप्रैल 2024 से ही निवेश करना शुरू कर दे क्योंकि वित वर्ष के पहले महीने से बेहतर रिटर्न की प्राप्ति हो सकती है। ईपीएफ में इनकम टैक्स के Section 80C के तहत डेढ़ लाख रुपए तक इनकम टैक्स पर छूट दी जाती है। ‌ वित्त वर्ष 2023-24 में EPF निवेश कर्ताओं को 8.25% तक का ब्याज दर हासिल हुआ था। 

Public Provident Fund में निवेश 

अगर आप पब्लिक प्रोविडेंट फंड ( PPF) में निवेश करना चाहते हैं तो आपको यह ध्यान रखना होगा कि आप 5 तारीख से पहले खाते में निवेश कर दे जिससे आपको उसे महीने का ब्याज मिल सके।

एम्पलाई प्रोविडेंट फंड की तरह पब्लिक प्रोविडेंट फंड में भी इनकम टैक्स के Section 80C के अनुसार डेढ़ लाख पर इनकम टैक्स की छूट दी जाती है और इसका मेच्योरिटी पीरियड भी ज्यादा होता है इसीलिए इसमें निवेश करना एक अच्छा ऑप्शन माना जा सकता है।

बेहतर रिटर्न के लिए वित्त वर्ष के पहले महीने यानी अप्रैल से करें निवेश

इनकम टैक्स सेव करके ज्यादा रिटर्न प्राप्त करने के लिए आप अपने निवेश को 12 महीना के हिसाब से बांट दे और 5 तारीख से पहले निवेश कर दे ताकि आपको उसे महीने का रिटर्न मिल जाए।

You may also like:

TCS के ऑफ साइट कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर वेतन में हो सकती हैं 7 से 8% की बढ़ोतरी जाने क्या है न्यू...
RBI के बड़े ऐलान के चलते अब सिर्फ यूपीआई से ही कर सकेंगे Cash Deposit! जल्द शुरू होगा काम!
Income Tax Cash Policy - कैश के द्वारा होता है हर पेमेंट का भुगतान तो हो जाइए सतर्क!
Money saving tips - इस सेटिंग पर चलाएं अपना एयर कंडीशनर बिजली बिल होगा आधा!
Mutual Fund SIP में निवेश करने से पहले ध्यान दीजिए इन 4 बातों पर, मुनाफा होगा ज्यादा!
गर्मियों में एसी का नहीं है बजट? घर ले आए Orient Cloud 3 फैन!
बिना रिस्क अपने पैसे दोगुना करे सरकार की इस स्कीम से
बिना कहीं जाए घर बैठे ढेर सारे पैसे कैसे कमाए
खाते में जीरो बैलेंस होने पर भी Bank Overdraft Facility से पैसों की जरूरत को करें पूरा!
ये बैंक दे रहा है FD पर 9% से अधिक का ब्याज क्या आपका खाता है इस बैंक में?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top