SIP Meaning in Hindi | जानिये SIP की सारी जानकारी हिंदी मे

sip meaning in hindi

आज हम बात करेगे SIP के बारे मे! SIP क्या होता है! SIP का हिंदी मे मतलब क्या होता है यांनी की SIP meaning in Hindi. आज हम SIP के बारे मे सारा पड़ेगे!

SIP आज की तरीक मे निवेश करने का बहुत अच्छा विकल्प है! सिप आपको आपके निवेश किये हुए पैसे पर बहुत ही अच्छा इंटरेस्ट देता है!

पर क्या आपको पता है की SIP भी मार्किट पर निर्भर करता है!

हम आज SIP की ज्यादा से ज्यादा जानकारी लेने की कोशिश करेंगे!

SIP की फुल फॉर्म

SIP की फुल फॉर्म या पूरा नाम Systematic Investment Plan है! इसे ही छोटे रूप मे SIP कहा जाता है!

Systematic का मतलब होता है की एक पद्धतिबद्ध या व्यवस्थित तरीका!

Investment का मतलब होता है निवेश!

Plan का मतलब होता है तरीके से या ढंग से!

तो अगर हम SIP का प्रभाषित करने जाए तो इसका मतलब होता है की

एक ऐसा निवेश जिसे एक व्यवस्थित तरीके से किया जाए

हमने सिप की परिभाषा तो देख ली आइये अब समझते है की आखिर ये SIP क्या है? कहाँ से आया!

SIP क्या है?

जैसा की हमने ऊपर पढ़ा की SIP एक व्यवस्थित या पद्तिब्ध तरीके से किये जाने वाला निवेश है इसमें निवेशक (निवेश करने वाला इंसान) एक मुश्त रकम हर महीने किसी म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करता है!

म्यूच्यूअल फण्ड तो आपने सुना ही होगा आज कल जहां देखो लोग म्यूच्यूअल फण्ड की बात करते है! करें भी क्यूँ न! म्यूच्यूअल फण्ड आपको दूसरी सेविंग स्कीम जैसे की FD, RD  वगेरा से ज्यादा इंटरेस्ट (ब्याज) देता है!

थोडा सा म्यूच्यूअल फण्ड के बारे मे जान लेते है की क्या होता है?

म्यूच्यूअल फण्ड क्या है?

म्यूच्यूअल फण्ड एक तरह क निवेश का तरीका है जिसमे बहुत सारे लोग मिल के किसी एक फण्ड मे पैसा लगाते है और म्यूच्यूअल फण्ड बहुत सारी कम्पनीज के शेयर से मिल के बना होता है! कोई भी म्यूच्यूअल फण्ड को मैनेज या चलाने के लिए एक फण्ड मेनेजर होता है! ये सारा शेयर का हिस्सा की किस कंपनी का कितने प्रतिशत हिस्सा फण्ड मे लगेगा ये सारा फण्ड मेनेजर ही देखता है!

>>म्यूच्यूअल फण्ड को अधिक जानने के लिए यहाँ पढ़ें <<

अब हमने ये पढ़ लिया और जान लिया की म्यूच्यूअल फण्ड क्या होते है!

किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड मे हम 2 तरीके से निवेश कर सकते है!

  1. Lump sum (लम्प सम)
  2. SIP(सिप)

Lump Sum

Lump Sum का मतलब होता है एक ही बार ज्यादा पैसे म्यूच्यूअल फण्ड मे डालना! इसमें हर बार म्यूच्यूअल फण्ड मे पैसे डालने की सीमा तय नहीं होती!

जैसे किसी समय आपके पास 10 -15 हज़ार रूपए है आप सीधा म्यूच्यूअल फण्ड मे lump sum के तरीके से पैसे डाल सकते है!

अगर किसी समय आपके पास सिर्फ 5 हज़ार ही है तो भी आप lump sum मे डाल सकते है!

आप कभी भी किसी भी समय lump sum मे कितने भी पैसे डाल सकते है! आप चाहे तो महीने मे 10 बार lump sum के जरिये पैसे डाल सकते है!

 

SIP (Systematic Investment Plan)

आइये अब Systematic Investment Plan को समझते है! जैसा की हमने उप्पर पढ़ा की SIP एक व्यवस्थित तरीके से कीया जाने वाला निवेश है!

SIP मे एक निश्चित समय पर एक निश्चित पैसे डाले जाते है!

अगर आपने किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड की SIP शुरू करनी है तो आपको एक निश्चित समय मतलब एक तारीक चुननी होगी और आपको ये चुनना होगा की उस तारीक को कितने पैसे आपके SIP अकाउंट मे जायेंगे!

उदाहरण के लिए अगर आप 1000 रूपए की SIP हर महीने की 10 तारीक को निवेश करना चाहते है आपको हर महीने 10 तरीक को ही पैसे जमा कराने होंगे और 1000 रूपए ही जमा कराने होंगे न कम न ज्यादा!

इसलिए इसे systematic या व्यवस्थित निवेश कहा जाता है क्यूंकि इसमें निश्चित समय मे एक निश्चित राशि निवेश की जाती है!

SIP मे निवेश के लिए आप महीने का कोई भी दिन चुन सकते है! जो भी दिन आप चुनोगे उस दिन आपके द्वारा पहले से चुनी हुई राशि को आपको अपने SIP अकाउंट मे डालना होगा!

SIP अकाउंट को ऑटोमेट कैसे करें?

अगर आप चाहते है की SIP की राशि अपने आप आपके अकाउंट से निकल कर SIP अकाउंट मे चली जाए तो वो भी संभव है! इसके लिए आपको

  • अपने बैंक अकाउंट मे नेट-बैंकिंग से खोलना होगा!
  • उसमे Add biller की आप्शन मे जाकर अपने म्यूच्यूअल फण्ड को चुनना होगा!
  • उसके बाद अपने म्यूच्यूअल फण्ड के अकाउंट की इनफार्मेशन डालनी होगी!

ऐसे थोड़ी सी और सेटिंग के बाद आप बड़ी आसानी से म्यूच्यूअल फण्ड के सिप अकाउंट को अपने बैंक से लिंक कर सकते है और हर महीने आपके अकाउंट से अपने आप पैसे निकल कर आपके सिप अच्चुंत मे चले जाएंगे! 

SIP मे निवेश की न्यूनतम राशि क्या है?

SIP शुरू करने की न्यूनतम राशि 500 रूपए है! आप किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड की SIP को 500 रूपए से शुरू कर सकते है! बाकी आप किसी म्यूच्यूअल फण्ड मे जाकर भी देख सकते है की उसमे SIP शुरू करने की न्यूनतम राशि कितनी है!

 

SIP के प्रकार

अब हम ये देखेंगे की SIP कितने प्रकार की होती है! SIP को भी हम कुछ हिस्सों मे बाँट सकते है या यूँ कह सकते है की इसके भी कई प्रकार है

रेगुलर सिप

 ये एक तरह की नार्मल सिप होती है जिसमे हर महीने एक तह की हुई तारीक को पैसे सिप मे लगा दिए जाते है! रेगुलर सिप मे अगर एक बार पैसे लगा दिए तो उसके बाद पैसो की राशि को बदला नहीं जा सकता! इसलिए सिप चुनते वक़्त ही ये चीज़ ध्यान देनी होती है!

टॉप-अप सिप

टॉप अप सिप मे आपको पैसो को बढाने की सुविधा मिलती है! अगर कुछ महीने निवेश करने के बाद आप अपने सिप की राशि को बढ़ाना चाहते है तो आप टॉप-अप सिप की सहायता से आसानी से बढ़ा सकते है!

फ्लेक्सिबल सिप

फ्लेक्सिबल सिप फ्लेक्सिबल की तरह ही काम करती है! इसमें कई विकल्प मौजूद है! इसमें ना सिर्फ आप अपनी सिप की राशि घटा-बढ़ा सकते है बल्कि अगर आपके पास पैसो की कुछ तंगी आ गयी है तो आप इसे कुछ समय के लिए बंद भी कर सकते है! ये एक बहुत ही अच्छा विकल्प है !

SIP कैसे चुने?

Sip meaning in hindi के इस पोस्ट मे जैसा की हम अब जान गए है की SIP मतलब म्यूच्यूअल फण्ड मतलब मार्किट का जोखिम!

तो किसी भी कंपनी या म्यूच्यूअल फण्ड का SIP करने से पहले उस का इतिहास जान लेना चाहिए!

  • SIP चुनने से पहले ये देखना चाहिए की उस SIP मे किन किन कंपनियो के शेयर्स है और वो कंपनिया मार्किट मे कैसा परफॉर्म कर रही है!
  • SIP चुनने से पहले आपको ये देखना है की उस फण्ड ने पिछले कुछ सालो मे कैसा परफॉर्म की है और उसने कितना प्रतिशत का मुनाफा दिया है और आने वाले समय मे कितना मुनाफा दे सकता है!

किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड के मुनाफे का अनुमान आप उसके क्रिसल स्कोर से लगा सकते है!

क्रिसिल स्कोर (Crisil Score) क्या होता है?

किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड को उसके पिछले परफॉरमेंस या योग्यता के अनुसार रेटिंग यानी रैंक दिया गया है! इसी को क्रिसिल स्कोर या रेटिंग कहा जाता है! क्रिसिल रेटिंग 1 से 5 तक दी जाती है! जिन म्यूच्यूअल फण्ड का परफॉरमेंस पिछले सालो मे अच्छा है और उन्हें ज्यादा नंबर दिया जाता है!

सबसे अच्छे परफॉर्म करने वाले म्यूच्यूअल फण्ड को 5 रेटिंग दी जाती है और सबसे ख़राब परफॉर्म करने वालो को 1 रेटिंग दी जाती है!

  • इसलिए कोई भी SIP शुरू करने से पहले उसका क्रिसिल स्कोर जान लेना बड़ा जरुरी होता है!

देखिये आज के समय मे कुछ भी कहना सही नहीं है की आने वाले समय मे इतन मुनाफा आएगा फिर भी एक अनुमान के साथ म्यूच्यूअल फण्ड मे पैसा लगाया जाता है! इसलिए आपको भी इन सब बातो का थोडा ज्ञान होना जरुरी है!

SIP कितना रिटर्न देती है

अगर हम रेट ऑफ़ रिटर्न (मुनाफे) की बात करें तो SIP मे आपको बाकी सेविन स्कीम के बदले काफी अच्छा इंटरेस्ट मिलता है!

आज कल तो फिक्स्ड डिपाजिट(FD) या RD पर 5-6% ही ब्याज रह गया है!इसके विपरीत अगर आप अपना पैसा SIP मे लगाते है तो आपको कम से कम 9% इंटरेस्ट तो मिलता ही है!  

आप सिप से 15-20% सालाना इंटरेस्ट भी कमा सकते है उसके लिए आपको थोडा रिसर्च करके SIP मे पैसा लगाना होगा!

SIP के फायदे

छोटी रकम ज्यादा कमाई

SIP का सबसे बड़ा फायदा ये है की हम थोड़े थोड़े पैसे हर महीने निकाल के कुछ ही सालो मे लाखो का अपने लिए एक मोटी राशि इकट्ठा कर सकते है!

500 -600 तक का तो हम पिज़्ज़ा, कोई फिल्म देखने मे खर्च कर देते है! तो क्यूँ न थोड़े से पैसे सिप मे डाल के अपने भविष्य को थोड़ी मजबूती दे!

बाकी सेविंग स्कीम से अच्छा मुनाफा

अगर हम सिप की तुलना बाकी सेविंग स्कीम जैसे की नार्मल सेविंग, फिक्स्ड डिपाजिट या किसी और से करें तो हमे इनकी तुलना मे ज्यादा रेट ऑफ़ इंटरेस्ट मिलता है!

आज कल किसी भी सेविंग स्कीम मे ज्यादा इंटरेस्ट नहीं मिलता जबकि आप किसी अच्छी म्यूच्यूअल फण्ड की सिप से कम से कम 10-12% की सालाना इंटरेस्ट बड़े आराम से ले सकते है!

इनकम टैक्स मे छुट

सिप आपको केवल अच्छा मुनाफा ही नहीं देता बल्कि साथ मे टैक्स बचाने मे भी मदद करता है! अगर आप किसी टैक्स सेविंग म्यूच्यूअल फण्ड मे निवेश करते है तो आप जितना पैसा उसमे निवेश करेंगे उतने पैसे की आप इनकम टैक्स सेक्शन 80C टैक्स मे छुट ले सकते है!

टैक्स मे छुट के लिए आपको किसी म्यूच्यूअल फण्ड की टैक्स सेविंग सिप मे पैसे लगाने होंगे! इस तरह आप टैक्स सेविंग सिप से सालाना 150,000 रूपए सालाना का टैक्स बचा सकते है!

सिप को कभी भी बंद करना

आप सिप को एक निश्चित अवधि के बाद कभी भी बंद कर सकते है!   

 

SIP के नुक्सान

यूँ तो सिप के बहुत सारे फायदे है परन्तु ये भी कह सकते है की इसमें कुछ कमिया भी है! आइये सिप के इन्ही कमियो को देखते है!

  • निश्चित समय : जैसा हम जानते है की सिप एक निश्चित तारीक को की जाती है अगर उस तारीक को मुतुल फण्ड का NAV बाकि दिनों की तुलना मे ज्यादा हुआ तो हमे उस म्यूच्यूअल फण्ड के कम यूनिट्स मिलेंगे इसके उल्टा lump sum मे हम रोज मार्किट को analyze करके म्यूच्यूअल फण्ड के यूनिट्स खरीद सकते है!
  • सिप के जब तारीक आने वाली हो तब बैंक अकाउंट मे उतने पैसे होने चहिये जितने की सिप की अमाउंट है नहीं तो उस महीने सिप मे पैसे नहीं लगेंगे!

SIP कैसे शुरू करें?

अगर आपने अभी तक SIP शुरू नहीं की है और आप भी सिप को शुरू करना चाहते है पर ये नहीं पता की कहाँ जाए कैसे शुरू करें?

तो यहाँ पर हम बात करने जा रहे है की सिप को कैसे शुरू कीया जा सकता है!

आज कल हर बड़े बड़े बैंक जैसे की SBI,ICICI, HDFC या दुसरे किसी फाइनेंसियल इंस्टिट्यूट मे सिप खलना चाहते है तो आप उस की वेबसाइट पर जाकर भी सिप खोल सकते है या आप उस बैंक मे जाकर भी खोल सकते है!

आज कल के जमाने मे सब घर बैठे ही काम करना ज्यादा पसंद करते है!

अगर आपको ज्यादा समझ नही आ रही की कौन सी सिप शुरू करें? किसका क्रिसिल स्कोर ज्यादा है? कौन अच्छी रिटर्न देगा तो आप मोबाइल अप्प (app) का सहारा भी ले सकते है!

आज की तरीक मे इतने apps आ गए है की आप उसमे आसानी से देख सकते ही की कौन सी सिप आपके लिए बेहतर रहेगी!

ऐसी ही एक app का नाम है Groww app. इसे आप बड़ी आसानी से अपने मोबाइल मे डाउनलोड कर सकते है और इसमें फ्री मे अकाउंट बना के सब म्यूच्यूअल फंड्स को देख सकते है की कौन सा अच्छा म्यूच्यूअल फण्ड है और उसके उनुसार किसी भी म्यूच्यूअल फण्ड मे सिप शुरू कर सकते है!

Groww ऐप बहुत ही अच्छा ऐप है इसमें आप अपने बैंक अकाउंट को सीधा लिंक कर करके पैसे डाल भी सकते है!

खेर मैं किसी ऐप की प्रमोशन नहीं कर रहा ये ऐप काफी अच्छा है इसलिए बता रहा हूँ!   

 

SIP के लिए दस्तावेज/KYC

 पहली बार कोई भी सिप शुरू करने के लिए आपको कुछ दस्तावेज(documents) चाहिए होते है जो आपको उस संस्था को देने है जिसमे आप सिप शुरू करना चाहते है ये दस्तावेज आपकी पहचान के लिए है!

मुख्य रूप से सबसे जरुरी आपका पैन कार्ड नंबर चाहिए होता है  और बाकी आपकी हलकी फुलकी जानकारी!

दस्तावेज देने के बाद आपकी KYC की प्रक्रिया शुरू होती है! ये KYC की प्रक्रिया कुछ दिनों तक चलती है उसके बाद KYC का स्टेटस पास हुआ य फ़ैल आपको मेसेज या फॉर आपकी ईमेल पर आ जाता है!

 एक बार आपका KYC कम्पलीट हो जाए तो बार बार आपको KYC कराने की जरुरत नहीं पड़ेगी!

अंत मे 

मैं आशा करता हूँ की आपको ये पोस्ट जो की SIP meaning in hindi पर है आपको पसंद आया होगा और मे कुछ हद तक आपको SIP से जुडी कुछ जानकारी देने मे सफल हुआ होगा!

एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात की SIP मे आपको ऐसे ही पैसे नहीं लगा देने है! उस म्यूच्यूअल फण्ड के बारे मिया थोडा उधर उधर से जानकारी लेने के बाद ही अपना पैसा लगायें!

कई लोग दूसरो के देखा देखी पैसा लगा देते है और बाद मे पछतावा होता है! ये SIP, ये म्यूच्यूअल फण्ड सब मार्किट रिस्क से जुड़े होते है! इसलिए ध्यान रखिये!  

 

You may also like:

इन 3 कंपनियों के शेयर्स में पैसे करें निवेश एक्सपर्ट ने कहा 1 साल में हो सकता है तगड़ा मुनाफा टाटा स...
IPO ने दिया निवेशकों को बहुत बड़ा तोहफा पहले ही दिन कर दी तगड़ी कमाई शेयर पहुंचा ₹800 पर
LIC की स्कीम के साथ अपने रिटायरमेंट को कर सुरक्षित, पाएं तगड़ा रिटर्न!
Post Office की RD पर भी ले सकते हैं लोन का फायदा जाने क्या है नियम।
गर्मियों के मौसम में शुरू करेंगे कम लागत का तगड़ा मुनाफे वाला बिजनेस!
लोन चुकाने की नहीं हिम्मत तो डिफाल्टर होने से पहले जाने आरबीआई का यह खास नियम!
इनकम टैक्स पर पाना चाहते हैं बेहतर रिटर्न तो अप्रैल 2024 से ही शुरू कर दे निवेश!
इन बैंकों के Fixed Deposit पर मिलता है 9% से ज्यादा तक का ब्याज दर, जानिए कौन सा है सबसे अच्छा! 
Asset और Liability क्या है? आइये आसान भाषा मे समझते है!
बिना कहीं जाए घर बैठे ढेर सारे पैसे कैसे कमाए

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top